आदित्य अर्बन कासा ग्रुप हाउसिंग सोसाइटी में घंटों तक बिजली ना होने से सोसाइटी के निवासी परेशन

Noida News : सेक्टर-78 में स्थित आदित्य अर्बन कासा ग्रुप हाउसिंग सोसाइटी के निवासी बिजली बिजली कटने की समस्या से कफी लंबे समय से परेशन चल रहे हैं, निवासीयों का आरोप है की वह अपना बिजली और मेंटेनेंस सही टाईम पर भरते आ रहें है. इसके बाद भी सोसाइटी में बिजली बिजली मिली थी उतनी नहीं मिल पा रही है
सोसाइटी के निवासी कर्नल प्रकाश चंद्र ने बताया
सोसाइटी के निवासी कर्नल प्रकाश चंद्र ने बताया कि यह समस्या 6 सालों लगातार एसी ही चली आ रही है. हमने कई बार अपने क्षेत्र के बड़े अधीकारी से हम यह अनुरोध किया कि हमारा जो बिजली कनेक्शन है वह 79 के सबस्टेशन से कर दिया जाए यह करीब 2 किलोमीटर के दूरी पर है. अभी जो कनेक्शन दिया जा रहा है वह 4 किमी की दूरी पर है. जिससे काई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है,कभी किसी जगह का केबल तो कहीं किसी और जगह का तार जल जाता है। सेक्टर-72 का सब स्टेशन भी जर्जर अवस्था में है।

Executive Engineer, SDO और Sub Station के कर्मचारियों को उपभोक्ताओं की परेशानियों से कोई लेना देना नहीं होता है। बिजली कटने पर हम फ़ोन करते हैं और शिकायत करते हैं। लेकिन, हमारी शिकायतों का बिजली सप्लाई की गुणवत्ता पर कोई सकारात्मक असर दिखाई नहीं दे रहा है। कर्नल प्रकाश चंद्र ने बताया कि सोसाइटी में बिजली का सप्लाई EUDD1 नोएडा के माध्यम से किया जाता है। जिसकी सप्लाई सेक्टर-72 स्थित सब स्टेशन स्टेशन के फीडर नंबर 6 से होता है, जो जर्जर अवस्था और ओवरलोडेड है।
पत्र में उन्होंने लिखा
पत्र में उन्होंने लिखा, हमारे सोसाइटी के में रहने वाले लोगो बिजली के खराब सप्लाई से परेशान होकर यह अनुरोध करना चाहते है सोसाइटी के बच्चों, माताओं और अन्य लोगों की ओर से कर रहा हूं, जो भयंकर गर्मी और ठंड में बार बार और घंटों तक बिजली कटने के कारण तकलीफ और असुविधाओं का सामना कर रहे हैं। नोएडा उत्तर प्रदेश का एक मुख्य जनपद है। जब यहां बिजली सप्लाई का यह हाल है। यह बिजली विभाग के अक्षमता को उजागर करता है।
घंटों तक बिजली नही रहती है
सोसाइटी में बार-बार और घंटों तक बिजली नही रहती है और ना ही बिजली काटने से पहले बिजली काटने की कोई सूचना दी जाती है. घंटों तक बिजली ना आने के कारण सोसाईटी में रहने वाले बच्चे पढ़ाई नहीं कर पाते हैं ,बूढ़े गर्मी के कारन बीमार होते हैं. लेकिन इस समस्या का समाधान होता दिखाई नहीं दे रहा है

Subscribe

spot_img

Related Articles